Sunday, 29 May, 2011

रक्तदान महादान

संत निरंकारी मंडल श्री गंगानगर के रक्तदान कैंप में रक्तदान करते हुए..

गंगानगर विधानसभा युवक कांग्रेस द्वारा आयोजित ब्लड डोनेशन कैंप



राजीव जी की पुण्य तिथि पर श्री गंगानगर विधानसभा युवक कांग्रेस द्वारा आयोजित ब्लड डोनेशन कैंप के अवसर पर..

Sunday, 13 March, 2011

चमत्कार केसे होते है?

दोस्तों,अक्सर हम सोचते है कि, चमत्कार केसे होते है?

जब भगवान कि मर्जी हो और वो हम पर मेहरबान हो तो चमत्कार यूँ होते है जैसे पलक झपकते ही दुनिया बदल जाती है, दोस्तों ऐसा ही चमत्कार कल मेरी जिंदगी में हुआ है..

दोस्तों आज से लगभग १७ साल पहले मेरी बहन चुखु एमी खो गयी थी.. में कितने ही सालो से से ढूंढ रहा था.. पिछले छ महीने से तो मैं लगातार अपनी पूरी ताकत लगाकर उसे ढूंढ रहा था, पर मेरी ताकत से ज्यादा बढ़कर ताकत है इन्टरनेट कि ताकत.. और इन्टरनेट ने मुझे मेरी बहन से मिला दिया.. और ये कारनामा कर दिखाया है, facebook पर मेरी दोस्त सुनीता थापा ने.. सुनीता थापा ने बेहद कोशिश करके आखिरकार मेरी बहन को खोज निकाला.. में तो अरुणाचल प्रदेश के पहाड़ो में उसे जिंदगी भर नहीं ढूढ़ सकता था, में बेहद शुक्रगुजार हूँ सुनीता थापा का जिन्होंने मुझ पर ये अहसान किया है.. मैं अपनी पूरी जिन्दगी उनके प्रति नत मस्तक रहूँगा..

उनके लिए कुछ लाइन..

मेहनत से रोटी मिलती है,

और किस्मत से दौलत मिलती है,

खुदा कि ख़ास नजर हो जिस बंदे पर,

उसे दुनिया में दोस्ती सुनीता थापा कि मिलती है...

जगदीश टाईटलर जी को बधाई

तकदीर से जब हमें हिस्सा मिलता है

प्यार भरा जब कोई रिश्ता मिलता है,

रोशन हो जाती है जिंदगी,

जब रिश्तों में जगदीश टाईटलर जी जैसा फ़रिश्ता मिलता है..


दोस्तों,जगदीश टाईटलर जी के आल इंडिया कांग्रेस कमेटी में सी.डब्लू.सी. मेम्बर बनने पर आप सबको और जगदीश टाईटलर जी को बधाई.. एक सचे व नेक दिल वाले जन नेता का सम्मान हिंदुस्तान के हर एक नेक दिल कांग्रेसी कार्यकर्ता का सम्मान है..

में आपसे अपील करता हूँ कि हिंदुस्तान के हर कोने से सोनिया गाँधी को पत्र लिख कर जगदीश टाईटलर जी को सी.डब्लू.सी. मेम्बर बनाने के लिए आभार प्रकट करें..

एक बार पुनः जगदीश टाईटलर जी को कांग्रेस वर्किंग कमिटी का सदस्य बनने पर दिल के हर कोर से,दिल के पोर से,दिल के हर छोर से,दिल के हर और से,और चहुँ और से बधाई


Saturday, 12 February, 2011

राजस्थान सरकार के मंत्री द्वारा राष्ट्रपति पर अमर्यादित टिप्पणी


किसी भी देश के लिए राष्ट्रपति पद न केवल सर्वोच्च होता है बल्कि,ये संवेधानिक पद होने के साथ साथ देश की गौरवशाली परम्परा का भी प्रतीक होता है, हमारे देश में तो इस पद की बहुत अहमियत है, पिछले दिनों राजस्थान सरकार के राज्य मंत्री आमीन खान द्वारा जिस हल्के और स्तरहीन शब्दों से महामहिम राष्ट्रपति महोदया के लिए टिप्पणी की गयी, वो न केवल निंदनीय है बल्कि असहनीय है, आमीन खान ने न केवल कांग्रेस कार्यकताओ के बीच में ये टिप्पणी की, बल्कि टी.वी. चेनल पर भी अपने बयान को दोहराया व बार बार महामहिम को उसको कह के संबोधित किया, ये ठीक कि, माननीय मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने तुरंत प्रभाव से ऐसे बडबोले और मोटे दिमाग वाले मंत्री से इस्तीफा ले लिया,पर ये बात तो स्वाभाविक ही उठती है कि, ऐसे लोगो को हमारे देश कि जनता,जनप्रतिनिधि क्यों चुनती है,जिनका जनरल नोलेज इतना कमजोर है कि, उनको ये पता ही नहीं वो क्या बोलने जा रहे है.. पर इस सारे मामले से कांग्रेस एवं राष्ट्रपति पद को हटा दिया जाये तो, राजनीती में हो रही चमचागिरी व व्यक्ति पूजा, का कटु सत्य एक बार फिर बेनकाब हुआ है..